Custom Search

शादी के बाद पत्नी कैसे बदलती है, जरा गौर कीजिए:

पहले साल: मैंने कहा जी खाना खा लीजिए, आपने काफी देर से कुछ खाया नहीं।
दूसरे साल: जी खाना तैयार है, लगा दूं?
तीसरे साल: खाना बन चुका है, जब खाना हो तब बता देना।
चौथे साल: खाना बनाकर रख दिया है, मैं बाजार जा रही हूं, खुद ही निकाल कर खा लेना।
पांचवे साल: मैं कहती हूं आज मुझ से खाना नहीं बनेगा, होटल से ले आओ।
छठे साल: जब देखो खाना, खाना और खाना, अभी सुबह ही तो खाया था।

शादी के बाद पति कैसे बदलते हैं, जरा गौर कीजिए:

पहले साल: जानू संभलकर उधर गड्ढा है।
दूसरे साल: अरे यार देख के उधर गड्ढा है।
तीसरे साल: दिखता नहीं उधर गड्ढा है।
चौथे साल: अंधी है क्या गड्ढा नहीं दिखता।
पांचवे साल: अरे उधर - किधर मरने जा रही है गड्ढा तो इधर है।


स्पेलिंग ने मरवा दिया!

 

संता: जल्दी से यहाँ एक एम्बुलेंस भेज दीजिये, मेरे दोस्त को एक गाडी ने टक्कर मार दी है। उसके नाक से और कान से खून बह रहा है। शायद उसकी टांग भी टूट गयी है।

ऑपरेटर: आप किस जगह पर हैं कृपया वो बता दीजिये।

संता: Connaght Place में।

ऑपरेटर: आप मुझे स्पेलिंग बता दीजिये?

आगे से कोई आवाज़ नहीं आई।

ऑपरेटर: सर क्या आप को मेरी आवाज़ आ रही है?

दूसरी तरफ से अभी भी कोई आवाज़ नहीं आई।

ऑपरेटर: सर प्लीज, जवाब दीजिये, क्या आप मुझे सुन रहे हैं?

संता: हाँ- हाँ माफ़ करना, मुझे Connaght Place के स्पेलिंग नहीं आते, इसलिए मैं उसे घसीट कर Minto Road पर ले आया हूँ। आप Minto Road के स्पेलिंग लिखो।


एक बार संता और बंता, किसी बियर बार में बियर पीने गये। जब वह पीने लगे तो बंता बोला, "लगता है बाहर बारिश हो रही है। तुम ऐसा करो घर जाकर जल्दी से छतरी ले आओ।"

संता गुर्राया: मुझे पता है मेरे जाने पर तुम मेरी सारी बियर पी जाओगे।

बंता ने उसे यकीन दिलाया कि वो उसकी बियर नहीं पियेगा। उसके हिस्से की बियर ज्यों की त्यों रखी रहेगी।

संता यह सुनकर मान गया और छतरी लेने चला गया।

जब रात गहराने लगी पर संता छतरी लेकर नहीं लौटा तो बंता ने सोचा शायद संता घर पर ही रुक गया है और अब नहीं आएगा। यही सोच कर उसने संता का बियर वाला गिलास उठाया ही था कि बार के एक कोने की छोटी सी खिड़की से तेज आवाज आई, "अगर पीओगे तो मैं छतरी लेने नहीं जाऊंगा।"


स्वर्ग नर्क!


एक बार संता और बंता समुद्र किनारे सैर कर रहे होते हैं, कि तभी अचानक बंता के दिमाग में एक सवाल आता है तो वह संता से पूछता है, "यार संता एक बात बता।"

संता: हाँ बोल।

बंता: जब हर आदमी को शादी करने के नुक्सान पता होते हैं, तो फिर भी वो शादी क्यों करता है?

संता: अरे वो इस लिए कि मरने के बाद अगर उसकी आत्मा स्वर्ग जाए तो वो अच्छा महसूस करे और अगर नर्क जाए तो उसे घर जैसा महसूस हो।


मरवा दिया संता ने!


एक बार संता, उसका एक जापानी और एक ब्रिटिश मित्र समंदर घूमने निकले लेकिन अचानक एक तूफ़ान की वजह से वे एक सुनसान टापू पर पहुँच जाते हैं। चलते-चलते उन्हें एक चिराग मिलता है। जापानी चिराग को घिसता है तो उसमें से एक जिन्न बाहर आता है। जिन्न कहता है कि मैं आप तीनों की एक-एक इच्छा पूरी करूँगा।

जापानी कहता है कि मैं अपने घर वापस जाना चाहता हूँ। जिन्न हाथ घुमाता है और वो घर पहुँच जाता है।

ब्रिटिश भी अपने घर जाने की इच्छा रखता है और वो भी घर पहुँच जाता है।

संता सोच में पड़ जाता है और अपनी इच्छा बताते हुए कहता है, "भई, उन दोनों के जाने से मैं तो अकेला पड़ गया, तुम ऐसा करो उन दोनों को वापस बुला लो।"


पत्नी की राजनीति!


संता लंगड़ाता हुआ जा रहा था और उसके कपड़े फटे हुए थे।

बंता ने पूछा: क्या हुआ भाई? यह हालत कैसे हुई तुम्हारी?

संता: क्या बताऊं यार, बीवी को मुझे पिटवाने की नई तरकीब सूझी थी।

बंता: कैसी तरकीब?

संता: बीवी ने मुझे झाड़ू खरीदने भेजा था, मैं वापिस आ रहा था, तो बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मुझे 'आप' का कार्यकर्ता समझ लिया!

We have 19 guests and no members online